Movie Nurture : Castle in the sky

Castle in the Sky 天空の城 : जापानी एनिमेटेड फेंटेसी फिल्म

लापुता : कासेल इन द स्काय एक जापानी एनिमेटेड फेंटेसी फिल्म है, जिसको पूरी दुनिया में कासेल इन द स्काय के नाम से जाना जाता है। यह फिल्म 2 अगस्त 1986 को जापान में रिलीज़ हुयी। और सुपरहिट होने के बाद इसको पूरी दुनिया में एक साथ कासेल इन द स्काय के नाम से रिलीज़ किया गया। इस जापानी फिल्म को हयाओ मियाज़ाकी ने लिखा भी है और इसका निर्देशन भी किया है।

Movie Nurture: Castle in the sky

Story Line – 

जापानी एनिमेटेड फिल्म की कहानी शुरू होती है एक लड़की सीता से और यह नाम रामायण की सीता माता से प्रेरित होकर रखा गया है। एक आदमी मुस्का द्वारा सीता का किडनैप किया जाता है, क्योकि वह सीता के द्वारा एक मूविंग कासेल को ढूंढ रहा है, जहाँ पर बहुत सारा धन रखा हुआ है और वह जब सीता को अपने साथ हवाई जहाज में ले जाता है तो उसकी समय लुटेरों का हमला होता है।

और इस हमले में सीता नीचे गिर जाती है। सीता के गले में जो जादुई लॉकेट होता है उसकी वजह से वह बच जाती है। और नीचे गिरने से वह जिस लड़के के द्वारा बचायी जाती है उसका नाम पाज़ू होता है। पाजू सीता का इलाज करने के लिए अपने घर लेकर जाता है। जहाँ वह अपने पिता द्वारा दी गयी एक तैरते हुए कासेल की फोटो के बारे में बताता है।

Movie Nurture: Castle in the sky

उसके बाद सीता और पाजू इस मूविंग शहर को ढूंढने जाते हैं मगर वह दोनों समुद्री डाकुओं और मुस्का के दुसरा ढूंढ लिए जाते हैं और उनसे बचने के लिए भागते हुए वह दोनों एक खदान में गिर जाते हैं। जहाँ पर उन्हें एक स्थानीय अंकल पोम मिलते हैं जो सीता के जादुई लॉकेट के बारे में बताते हैं। कि वह जो ढूंढ रहे हैं वह सिर्फ यह लॉकेट ही बता सकता है।

वहां से निकलकर सीता पाज़ू को अपनी सच्चाई के बारे में बताती है कि उसका असली नाम लुकिता टोल उर लापुता है। और वह कुछ और बताये उतने में ही वहां मुस्का आ जाता है और दोनों को बंदी बना लेता है। पाजू को वह एक कल कोठरी में डाल देता है और सीता को महल के एक आलीशान कमरे में बंद कर देता है।

मुस्का पहले प्रेम से सीता है उस रहस्मयी कासेल के बारे में पूछता है मगर वह नहीं बताती है। तो वह जब पाजू को मरने कि धमकी देता है तो वह बताने को तैयार हो जाती है मगर एक शर्त पर कि मुस्का पहले पाजू को छोड़ेगा। वह मान जाता है और पाजू को सीता को भूलने कि धमकी देकर छोड़ देता है। दुखी पाजू जब घर पर आता है तो डाकू और लुटेरों द्वारा उस पर हमला किया जाता है, जहाँ उसको पता चलता है कि सीता का जादुई लॉकेट ही उस मूविंग कासेल के बारे में बता सकता है और वह सीता की हत्या करके उस लॉकेट को पाना चाहते हैं।

सीता की हत्या की बात जानकर पाजू उसको बचाने उसके पास महल में वापस जाता है। और वह सीता को छुपाकर वहां से भगा ले जाता है। वह कुछ समय के लिए एक घर में छुपकर रहते हैं। जहाँ पर सीता पाजू को अपनी पूरी सच्चाई बताती है कि उसकी दादी ने उसे कई तरह के मंत्र सिखाये हैं जिसमें स्पेल ऑफ डिस्ट्रक्शन भी शामिल है।

Movie Nurture: Castle in the sky

सीता और पाजू दोनों पकड़े जाते हैं और वह मुस्का और समुद्री डाकुओं के साथ लापुता पहुँचते हैं। जहाँ पर मुस्का और उसके सैनिक ख़ज़ाने को लूटना शुरू करते हैं और उसके बाद सीता को मुस्का के असली उद्देश्य के बारे में पता चलता है कि वह इस लॉकेट के माध्यम से पूरे संसार पर राज्य करना चाहता है। इस उदेश्य को नाकाम करने के लिए सीता लॉकेट लेकर भागती है और पाजू को दे देती है। मुस्का सीता को मारने की धमकी देता है, मगर पाजू एक मिनट सीता से मिलने को कहता है।

दोनों मिलकर विनाश का मंत्र बोलने लगते हैं और पूरा महल गिरना शुरू हो जाता है, जिसमे दबकर मुस्का और उसका सपना दोनों ख़तम हो जाते हैं। पाजू और सीता दोनों मिल जाते हैं और ख़ुशी से एक साथ रहने लगते हैं।

MovieNurture: Castle in the sky

Songs – 

इस जापानी फिल्म में 14 गाने हैं और इसका म्यूजिक पूरी दुनिया में बेहद पसंद किया गया है। इसका संगीत जो हिसैशी ने दिया था और इसके गीतों को हयाओ मियाज़ाकी ने लिखा। “द गर्ल हू फेल फ्रॉम द स्काई” , “मॉर्निंग इन द स्लेग रिवाइन”, “मेमोरीज ऑफ़ गोंडा”, “रोबोट सोल्ज़र”, “केयरिंग यू “, “एक ओमेन टू रुइन”

Movie Nurture: Castle in the sky

Review – 

लापुता : कासेल इन द स्काय एक सुपरहिट जापानी एनिमेटेड फेंटेसी फिल्म है जिसको बच्चों के साथ साथ बड़ो द्वारा भी बेहद पसंद किया गया। यह फिल्म 5 मिलियन डॉलर में बनीऔर इस ब्लॉकबुस्ते फिल्म ने उस समय में 15 मिलियन डॉलर की कमाई की। 2006 के जापान मीडिया आर्ट्स फेस्टिवल में इस फिल्म को दूसरी सर्वश्रेष्ठ एनिमेटेड फिल्म के रूप में चुना और 2008 के ऑरिकॉन ऑडियंस पोल में इसको पहला स्थान दिया गया।

फिल्म का निर्देशन हयाओ मियाज़ाकी ने किया और इस फिल्म की कहानी और इसके गाने भी उन्होंने ही लिखे। इस फिल्म ने जापान की संस्कृति पर भी प्रभाव छोड़ा। यह फिल्म एक ऐसे मूविंग कासेल की कहानी है जहाँ पर बेशुमार खज़ाना है और उसको लूटने की कोशिश हर कोई कर रहा है। मगर इस ख़ज़ाने तक पहुँचने का जरिया सिर्फ एक प्यारी सी लड़की सीता है। इस फिल्म को एक बार जरूर देखना चाहिए क्योकि इसका एनिमेशन बहुत ही शानदार है।

Spread the love
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *