MovieNurture: Veera Ramani

Veera Ramani வீர ரமணி :साउथ सिनेमा की स्टंट क्वीन की सुपरहिट फिल्म

  1930 का वह समय जब देश में महिलाओं को लेकर काफ़ी रुढ़िवादिता थी उस समय में वीरा रमानी வீர ரமணி तमिल फिल्म के पोस्टर ने तमिलनाडु राज्य की जनता को आश्चर्य में डाल दिया था।  जहाँ पर महिलाएं कभी घर से बाहर नहीं निकलती थी और अगर निकलना पड़ा भी तो वह अपने पिता […]

Continue Reading
Movie Nurture: Nartaki

Nartaki رقاصہ :Major Cinematic-Essay के नाम से प्रसिद्ध

  हिंदी और बंगाली में बनी हुयी फिल्म नर्तकी رقاصہ सिनेमाघरों में 24 दिसम्बर 1940 को आयी थी। इस फिल्म का निर्देशन और लेखन देबकी बोस ने किया था, जिनका हिंदी और बंगाली सिनेमा में महत्वपूर्ण योगदान रहा है। नर्तकी फिल्म सोलहवीं शताब्दी के समाज के एक ऐसे चेहरे का वर्णन करती है जहां पर […]

Continue Reading
Movie Review: Sairandhari

Sairandhri سائرندھری : भारतीय सिनेमा की पहली रंगीन फिल्म

सैरंधरी سائرندھری भारतीय सिनेमा की पहली रंगीन फिल्म थी, जो सिनेमा घरों में 1 जनवरी 1933 को रिलीज़ की गयी थी। पहली बार रंगों के साथ फिल्म देखना भारतीय जनता के लिए एक अलग ही अनुभव था। निर्देशक वी. शांताराम की यह फिल्म महाभारत के एक अध्याय पर आधारित है। यह फिल्म हिंदी और मराठी […]

Continue Reading
Movienurture: Zabak

Zabak زبک : तेरी दुनिया से दूर चले होकर मजबूर

ज़बक زبک एक हिंदी/उर्दू एक्शन ड्रामा फ़िल्म है, जो भारतीय सिनेमा में 1 जनवरी 1961 को रैली हुयी थी। और इस फिल्म का निर्माण और निर्देशन होमी वाडिया ने अपने वाडिया प्रोडक्शंस के बैनर तले किया था। सी एल कैविश द्वारा लिखित कहानी के जरिये निर्देशक ने समाज की बहुत पुरानी गरीब और अमीरी की […]

Continue Reading
Movie Nurture: Amay Jyoti

Amar Jyoti امر جیوتی :दुर्गा खोटे द्वारा की गयी सर्वश्रेष्ठअभिनीत फिल्म

अमर ज्योति امر جیوتی एक क्लासिक बॉलीवुड फिल्म, जो कि सिनेमा घरों में 30 नवम्बर, 1935 को रिलीज़ हुयी थी। यह एक सामाजिक, एक्शन एडवेंचर, ड्रामा फिल्म थी, जिसका निर्देशन शांताराम राजाराम वंकुद्रे ने किया था। इस फिल्म में अभिनेत्री दुर्गा खोटे ने अपनी सबसे “यादगार” भूमिकाओं में से एक का प्रदर्शन किया था। 2 […]

Continue Reading
Movie Nurture: Devika Rani

Devika Rani دیویکا رانی۔ : भारतीय सिनेमा की प्रथम महिला अभिनेत्री

देविका रानी चौधरी  دیویکا رانی۔ भारतीय सिनेमा की पहली महिला अभिनेत्री, जो 1930 से लेकर 1940 तक के दशक में हिंदी फिल्मों में काम किया था। उन्होंने अपने 10 वर्षों के फ़िल्मी सफर में कई सारी ब्लॉकबस्टर फ़िल्में दी थी। एक धनी अंग्रेज़ भारतीय परिवार की बेटी देविका, नौ साल की उम्र से इंग्लैंड के […]

Continue Reading
Movie Nurture: Jeevan Naiya

Jeevan Naiya جیون نیا۔ :अशोक कुमार के फ़िल्मी सफर की शुरुवात

जीवन नैया 1930 दशक की एक प्रसिद्ध फिल्म, जिसका निर्माण हिमांशु राय ने अपने स्टूडियो बॉम्बे टॉकीज़ के लिए किया था और इसके निर्देशन के लिए फ्रांज ओस्टेन को चुना गया था। यह फिल्म भारतीय सिनेमा में 2 जून 1936 को रिलीज़ हुयी थी। अशोक कुमार ने अपने फ़िल्मी सफर की शुरुवात इसी फिल्म से […]

Continue Reading

Nargis نرگس : तुम्हारी छाया में मै कड़ी से कड़ी धूप सहन कर लूँगी

नरगिस दत्त एक [प्रसिद्ध भारतीय क्लासिक बॉलीवुड अभिनेत्री और राजनीतिज्ञ थीं, जिन्होंने हिंदी सिनेमा में अपनी सफलता और अभिनय से एक अलग स्थान प्राप्त किया दर्शकों के दिलों में। उन्हें भारतीय सिनेमा के इतिहास में सबसे महान अभिनेत्रियों में से एक माना जाता है।  महज 6 वर्ष में अपने अभिनय से सभी लोगों के दिल […]

Continue Reading
MovieNurture: Khamoshi

Khamoshi خاموشی : बंगाली लघु कहानी पर आधारित एक फ़िल्म

खामोशी क्लासिक बॉलीवुड ब्लैक एंड व्हाइट हिंदी ड्रामा फ़िल्म है,जिसका निर्देशन असित सेनने किया। ख़ामोशी शब्द का अंग्रज़ी में अनुवाद साइलेंस है। 2 घंटे 7 मिनट्स की यह फिल्म भारतीय सिनेमा में 25 अप्रैल 1969 को रिलीज़ हुयी थी। यह फिल्म प्रसिद्ध बंगाली लेखक, आशुतोष मुखर्जी द्वारा लिखित नर्स मित्र नामक बंगाली लघु कहानी पर […]

Continue Reading
Movie NUrture: Babul

Babul بابل : उस वर्ष की दूसरी सबसे ज्यादा कमाने वाली बॉलीवुड फिल्म 

बाबुल एक म्यूजिकल बॉलीवुड ड्रामा फिल्म है, जो भारतीय सिनेमा में 15 दिसंबर 1950 को रिलीज़ हुयी थी। एस.यू. सनी द्वारा निर्देशित और नौशाद द्वारा निर्मित और संगीत निर्देशन के साथ इस फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर  कमाल ही कर दिया था। यह फिल्म बॉक्स ऑफिस पर उस साल की दूसरी सबसे ज्यादा कमाई करने […]

Continue Reading