Movie Review: Sairandhari

Sairandhri سائرندھری : भारतीय सिनेमा की पहली रंगीन फिल्म

सैरंधरी سائرندھری भारतीय सिनेमा की पहली रंगीन फिल्म थी, जो सिनेमा घरों में 1 जनवरी 1933 को रिलीज़ की गयी थी। पहली बार रंगों के साथ फिल्म देखना भारतीय जनता के लिए एक अलग ही अनुभव था। निर्देशक वी. शांताराम की यह फिल्म महाभारत के एक अध्याय पर आधारित है। यह फिल्म हिंदी और मराठी […]

Continue Reading
MovieNurture: Tabu: A Story of the South Seas

Tabu: A Story of the South Seas : एफ.डब्ल्यू. मर्नौ की आखिरी साइलेंट फिल्म

टेबु : ए स्टोरी ऑफ़ द साउथ सीज़, निर्देशन एफ.डब्ल्यू. मर्नौ की साइलेंट आखिरी फिल्म, जो अमेरिकन सिनेमा में 18 मार्च 1931 को रिलीज़ हुयी थी। इस साइलेंट फिल्म को निर्देशक ने दो भागों में विभाजित किया , पहला, जिसे “स्वर्ग” कहा जाता है, जिसमे दक्षिणी समुद्र के एक द्वीप पर जेववन बिता रहे दो […]

Continue Reading
Movienurture: Zabak

Zabak زبک : तेरी दुनिया से दूर चले होकर मजबूर

ज़बक زبک एक हिंदी/उर्दू एक्शन ड्रामा फ़िल्म है, जो भारतीय सिनेमा में 1 जनवरी 1961 को रैली हुयी थी। और इस फिल्म का निर्माण और निर्देशन होमी वाडिया ने अपने वाडिया प्रोडक्शंस के बैनर तले किया था। सी एल कैविश द्वारा लिखित कहानी के जरिये निर्देशक ने समाज की बहुत पुरानी गरीब और अमीरी की […]

Continue Reading
Movie Nurture: Amay Jyoti

Amar Jyoti امر جیوتی :दुर्गा खोटे द्वारा की गयी सर्वश्रेष्ठअभिनीत फिल्म

अमर ज्योति امر جیوتی एक क्लासिक बॉलीवुड फिल्म, जो कि सिनेमा घरों में 30 नवम्बर, 1935 को रिलीज़ हुयी थी। यह एक सामाजिक, एक्शन एडवेंचर, ड्रामा फिल्म थी, जिसका निर्देशन शांताराम राजाराम वंकुद्रे ने किया था। इस फिल्म में अभिनेत्री दुर्गा खोटे ने अपनी सबसे “यादगार” भूमिकाओं में से एक का प्रदर्शन किया था। 2 […]

Continue Reading

kunku : बाल – विवाह की और इंगित करने वाली एक मराठी फिल्म

कुंकू एक सुपरहिट क्लासिक मराठी फिल्म है, जिसने समाज को महिलाओं की संघर्ष की कहानी बताई है। यह फिल्म 27 अक्टूबर 1937 को मराठी सिनेमा में रिलीज़ हुयी और इसका निर्देशन वी. शांताराम ने किया था। यह फिल्म नारायण हरि आप्टे के उपन्यास ना पटनारी गोष्ट पर आधारित है,और इस फिल्म की कहानी भी नारायण […]

Continue Reading
Movie Nurture: Devika Rani

Devika Rani دیویکا رانی۔ : भारतीय सिनेमा की प्रथम महिला अभिनेत्री

देविका रानी चौधरी  دیویکا رانی۔ भारतीय सिनेमा की पहली महिला अभिनेत्री, जो 1930 से लेकर 1940 तक के दशक में हिंदी फिल्मों में काम किया था। उन्होंने अपने 10 वर्षों के फ़िल्मी सफर में कई सारी ब्लॉकबस्टर फ़िल्में दी थी। एक धनी अंग्रेज़ भारतीय परिवार की बेटी देविका, नौ साल की उम्र से इंग्लैंड के […]

Continue Reading
Movie Nurture: Dr Jekyll and Mr Hyde

Dr. Jekyll And Mr. Hyde :मानव व्यव्हार के पॉजिटिव और नेगेटिव पहलू की एक हॉरर कहानी

डॉ. जेकिल और मिस्टर हाइड एक हॉलीवुड हॉरर फिल्म है, 98 मिनट्स की यह फिल्म 24 दिसम्बर 1931 को अमेरिकी सिनेमा में रिलीज़ हुयी थी। फिल्म का निर्देशन रूबेन मामौलियन ने किया। यह फिल्म द स्ट्रेंज केस ऑफ डॉ जेकेल और मिस्टर हाइड से प्रेरित है , जो 1886 में एक ऐसे व्यक्ति रॉबर्ट लुइस […]

Continue Reading
Movie Nurture: Jeevan Naiya

Jeevan Naiya جیون نیا۔ :अशोक कुमार के फ़िल्मी सफर की शुरुवात

जीवन नैया 1930 दशक की एक प्रसिद्ध फिल्म, जिसका निर्माण हिमांशु राय ने अपने स्टूडियो बॉम्बे टॉकीज़ के लिए किया था और इसके निर्देशन के लिए फ्रांज ओस्टेन को चुना गया था। यह फिल्म भारतीय सिनेमा में 2 जून 1936 को रिलीज़ हुयी थी। अशोक कुमार ने अपने फ़िल्मी सफर की शुरुवात इसी फिल्म से […]

Continue Reading
Movie Nurture: from russia with love

From Russia with Love :जेम्स बॉन्ड सीरीज की दूसरी फिल्म

फ्रॉम रशिया विद लव एक हॉलीवुड जासूसी फिल्म, जो सिनेमा घरों में 10 अक्टूबर 1963 को रिलीज़ हुयी थी। यह फिल्म ईऑन प्रोडक्शंस द्वारा निर्मित जेम्स बॉन्ड सीरीज की दूसरी फिल्म थी। और इसकी कहानी इयान फ्लेमिंग के 1957 में आये एक प्रसिद्ध उपन्यास फ्रॉम रशिया विद लव पर आधारित है। इस फिल्म का निर्देशन […]

Continue Reading
Movie Nurture: Parashakti

Parasakthi பராசக்தி : द्वितीय विश्व युद्ध का प्रभाव एक खुशहाल परिवार पर

Parashakthi एक तमिल फिल्म, जिसका निर्देशन कृष्णन-पंजू ने किया और यह फिल्म सिनेमा घरों में 17 अक्टूबर 1952 दिवाली के दिन रिलीज़ हुयी थी। इस फिल्म से गणेशन और राजेंद्रन ने अपने फ़िल्मी करियर की शुरुवात की थी। यह फिल्म पावलर बालासुंदरम के प्रसिद्ध नाटक परशक्ति पर आधारित है। यह फिल्म द्वितीय विश्व युद्ध के […]

Continue Reading